वीडियोगैलरी समाचार

VIDEO मुजफ्फरनगर दंगे के नाम पर एक बार फिर नफरत फैलान कोशिश

VIDEO मुजफ्फरनगर दंगे के नाम पर एक बार फिर नफरत फैलान कोशिश
लखनऊ (वेब न्यूज)। यूपी के मुजफ्फरनगर में हुए दंगों को लेकर कथित रूप से आज भी लोगों को हिन्दू-मुस्लिम के नाम पर भड़काने की कोशिश हो रही। इस मामले से जुड़ा एक वीडियो हमारे सामने आया है। वीडियो में दिए गए कैप्शन से पता चलता है की ये दिल्ली के जेएनयू में बुलाई गई एक सभा का है। जिसमें खुद को एक जाने-माने पत्रकार बता रहे एक शख्स वहां बैठे कुछ लोगों को हिन्दू-मुस्लिम में बांटने के आधार पर भाषण दे रहे हैं।
वह इस दौरान इन लोगों को साल 2013 में मुजफ्फरनगर में हुए दंगों की कहानी सुनाकर भड़का रहे हैं।
ये लोग इन दंगों पर आधारित एक डॉक्युमंट्री मजफ्फरनगर आखिर क्यों की प्रमोशन करते हुए कह रहे हैं की उन दंगों में मुस्लिम लोगों के मारे जाने की बात सभी करते हैं लेकिन उनमें मारे गए हिन्दुओं का जिक्र कोई नहीं करता।
भाषण दे रहे शख्स का कहना है की सब अच्छी तरह से जानते हैं की दंगों के तीन कारण हैं। लड़कियों से छेड़छाड़, गोकशी और भारत-पाकिस्तान का मैच। हिन्दू गाय को माँ के समान पूजते हैं।
आप उसे मारेंगे तो दंगे ही होंगे। उनका कहना है की हमने अपनी डॉक्यूमेंट्री में हिन्दुओं और उनकी बेटियों के साथ जो हुआ वो दिखाया। क्यूंकि बाकी मीडिया ने तो सिर्फ मुसलमानों का राग अलापा था।
गोदी मीडिया की एंकर बोली- हमारा मुद्दा मदरसों में वंदे मातरम है, 60 बच्चों की मौत नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *