जीवनशैली समाचार स्वास्थ्य

नई दिल्ली में लगी दो दिवसीय सौंदर्य प्रदर्शनी

नई दिल्ली में लगी दो दिवसीय सौंदर्य प्रदर्शनी, चेज अरोमा थेरापी कॉस्मेटिक्स एंड स्किन केयर इंस्टीट्यूट  नई दिल्ली।चेज अरोमा थेरापी कॉस्मेटिक्स एंड स्किन केयर इंस्टीट्यूट, नई दिल्ली ने वार्षिक सौंदर्य प्रदर्शनी में भाग लिया और अरोमाथेरापी उत्पादों की अपनी प्रीमियम रेंज तथा शैक्षिक गतिविधियों का प्रदर्शन किया। चेज अरोमाथेरापी कॉस्मेटिक्स को जाने माने  अरोमाथेरापिस्ट  और  नेचुरोपैथ  डॉ. नरेश  अरोड़ा  और  डॉ. नीति  अरोड़ा ने  तैयार किया है दि चेज स्किनकेयर  इंस्टीट्यूट  1999  से काम कर रहा है  और यह देश भर  के सौंदर्य पेशेवरों  तथा ब्यूटी क्लिनिक के स्वामियों को प्रशिक्षण देने में अग्रणी रहा है। इसके लिए यह नियमित रूप से सेमिनार, कार्यशाला और प्रमाणन पाठ्यक्रमों का आयोजन करता रहता है।   अभी तक 5 लाख से ज्यादा सौंदर्य पेशेवरों ने डॉ. अरोड़ा के अरोमाथेरापी क्लास में हिस्सा लिया है और तब से सुंदर बनाने के अपने कैरियर को सफलतापूर्वक चला रहे हैं।चेज अरोमा ब्यूटी क्लिनिक, नई दिल्ली अपनी निदेशक डॉ. नीति अरोड़ा और उनकी टीम के योग्य निर्देशन में त्वचा की गड़बड़ियों जैसे उसमें दाग दाग धब्बे, मुंहासे, झुर्रियों, डीहाइड्रेटेड और संवेदनशील त्वचा तथा बाल गिरने की समस्या, गंजेपन, शरीर की गड़बड़ी तथा वजन कम करने का प्रोग्राम शामिल हैं और इसके लिए प्राकतिक उपचार मुहैया कराती रही है।प्रदर्शनी में डॉ. अरोड़ा ने जीवनशैली से जुड़ी आम गड़बड़ियों की रोकथाम और उपचार के लिए भिन्न अरोमा एसेनशियल ऑयल्स के उपयोग का प्रदर्शन किया। इनमें मुहांसे, त्वचा पर दाग धब्बे, गोरापन, बाल गिरना / कम होना / रूसी, त्वचा की एलर्जी और संवेदनशील त्वचा आदि शामिल हैं। वजन कम होना, हाइपर टेंशन, तनाव और अवसाद, उच्च या निम्न बीपी और सौंदर्य से संबंधित अन्य जटिलताएं शामिल हैं। तेज गर्मी और आने वाले बारिश तथा उमस वाले मौसम के लिए नाखून बढ़ाने के नुस्खे भी बताए गए। डॉ. नरेश ने कहा,“त्वचा की देखभाल के रूप में अदृश्य मेकअप भी प्रदर्शित किया गया था। तेज गर्मी के दिनों में चलने वाली शुष्क लू से त्वचा की नमी कम हो सकती है और इससे त्वचा में जलन हो सकती है। इससे चेहरे और शरीर पर स्थायी निशान पड़ सकते हैं।“ उन्होंने कहा कि आने वाले बरसात के मौसम में तपमान और भारी उमस त्वचा के लिए बहुत महत्नवपूर्ण है क्योंकि हमपर हमला करने वाली सूर्य की परबैंगनी किरणों की संख्या बढ़ जाती है। इससे त्वचा एलर्जिक हो जाती है। कुल मिलाकर, इसक असर यह होता है कि त्वचा की ऊपरी परत अमूमन निकल जाती है। डॉ. नरेश के मुताबिक अरोमाथेरापी के आवश्यक तेलों से हमें इस समस्या से निपटने में सहायता मिल सकती है। इसके लिए हम ऐसे सनस्क्रीन और फेस व बॉडी लोशन का चुनाव करते हैं जिसमें नेचुरल ऑयल मिला हो। अरोमा ऑयल की प्रभावी सूची इस प्रकार है : टी ट्री, नेरोली, पटचोउली, बसिल, लेमन, गेरेनियम, चंदन, चमेली और अन्य। डॉ. अरोड़ा के अनुसार इस गर्मी के लिए मंत्र है : हल्के भोजन खासकर तरल डाइट, ढेर सारा पीने का पानी, हल्का व्यायाम और सकारात्मक रुख से बॉडी डीटॉक्सीफिकेशन का हमेशा लाभ मिलता है और सकारात्मक रुख से हमेशा हमें इस मुश्किल मौसम में बने रहने में सहायता मिलती है।” डॉ नीति ने ब्राइडल मेकअप और नेल आर्ट टेकनीक में नवीनतम प्रवृत्तियों का प्रदर्शन किया। आने वाले शादी के मौसम में ब्यूटीशियंस के लिए यह बहुत उपयोगी साबित होने वाला है। डॉ. नीति अरोड़ा एक जानी-मानी नेचुरोपैथ, ऐक्यूप्रेशरिस्ट और अरोमाथेरापिस्ट तथा ब्यूटी कौनसेलर हैं जिन्होंने 20000 से ज्यादा सौंदर्य पेशेवरों को प्रशिक्षण दिया है। देश भर में और विदेशों में भी एक दिन की उनकी कार्यशालाओं में दो लाख से ज्यादा ब्यूटीशियंस ने हिस्सा लिया है। सौंदर्य के क्षेत्र में उनके निरंतर कार्यों के लिए डॉ. नीति को कई पुरस्कार मिले हैं और कई गैर सरकारी संगठनों तथा महिला संगठनों ने उन्हें सम्मानित किया है।  

समाचार स्वास्थ्य

फर्स्ट इंटर पेंटिंग कॉम्पटीशन 2018 का आयोजन

फर्स्ट इंटर पेंटिंग कॉम्पटीशन 2018 का आयोजन नई दिल्ली (सुनित नरूला)। दिल्ली के शेख़ सराय में स्थित पुष्पावती सिंघानिया हॉस्पिटल एंड रिसर्च इंस्टिट्यूट में फर्स्ट इंटर पेंटिंग कॉम्पटीशन 2018 का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का विषय मिशन इंद्र धनुष, 13 मई को था, जिसमें 20 से अधिक सरकारी व प्राइवेट स्कूलों ने भाग लिया। और […]

समाचार स्वास्थ्य

एकता मिशन के मुख्य संरक्षक अरूण जेटली जी के जल्द स्वस्थ्य होने की मनोकामना करते हुए फल वितरण

एकता मिशन के मुख्य संरक्षक अरूण जेटली जी के जल्द स्वस्थ्य होने की मनोकामना करते हुए फल वितरण नई दिल्ली। मिशन द्वारा एकता मिशन के मुख्य संरक्षक श्री अरूण जेटली जी के जल्द स्वस्थ्य होने की मनोकामना करते हुए फल वितरण के कार्यक्रम का आयोजन किया गया, इस कार्यक्रम में एकता मिशन के चेयरमैन व […]

समाचार स्वास्थ्य होम

सिजोफ्रेनिया के शीघ्र उपचार से घट सकती है आत्महत्या की दर

सिजोफ्रेनिया के शीघ्र उपचार से घट सकती है आत्महत्या की दर नौएडा- सिजोफ्रेनिया मानसिक रूग्णता का गंभीर रूप है जिससे देश के शहरी क्षेत्रों में हर एक हजार लोगों में से करीब 10 लोग ग्रस्त होते हैं और इसके मरीजों में ज्यादातर 16 से 45 वर्ष के लोग होते हैं। भारत में सिजोफ्रेनिया के करीब […]

समाचार स्वास्थ्य

शहीद भगत सिंह सेना व लायंस क्लब का स्वच्छता जागरूकता अभियान

नोएडा। शहीद भगत सिंह सेना व लायंस क्लब  नोएडा के द्वारा शनि मंदिर सेक्टर 14 में स्वच्छता जागरूकता अभियान चलाया गया जिसका मकसद था की जिस प्रकार लोग अपने घरों को स्वच्छ रखते हैं उसी तरह मंदिर परिसर को भी स्वच्छ रखें। इस अवसर पर शहीद भगत सिंह सेना के प्रशांत ने भक्तगण से निवेदन […]

समाचार स्वास्थ्य

महिलाओं ने ली स्वस्च्छता की शप

उम्र की बंदिशों को तोड़ कर महिलाओं ने रैम्प वॉक किया नौएडा, 11 मई। आर्मी नेवी आफिसर्स वूमेन एसोसिएशन ”अनावा” की ओर से आज नौएडा के जलवायु विहार में महिलाओं के लिए आयोजित कार्यक्रम में करीब 100 महिलाओं ने स्वच्छ भारत अभियान के लिए अपना योगदान देते हुए अपने घर, आसपास तथा सार्वजनिक स्थलों को […]

समाचार स्वास्थ्य

नीतियों के माध्यम से धूम्रपान को प्रतिबंधित नहीं किया जा सकता!

नीतियों के माध्यम से धूम्रपान को प्रतिबंधित नहीं किया जा सकता! नई दिल्ली (अंकित)। सरकार तंबाकू की खपत को हतोत्साहित करने और कैंसर के खतरे को कम करने के लिए कई कदम उठा रही है। राजस्थान सरकार भी निकोटीन से होने वाले नुकसान को कम करने के प्रयासों को समझने के लिए एक व्यापक अध्ययन […]

समाचार स्वास्थ्य

18वां विश्व वेट्रिनरी डे पर पशुओं की स्थितियों पर हुई चर्चा

  नई दिल्ली। दुनिया भर के पशुचिकत्सकों ने यहां 18वां विश्व वेट्रिनरी डे मनाया। इस में विदेशी मेहमानों समेत करीब 300 पशु चिकित्सकों ने हिस्सा लिया। इन लोगों ने देश में पशु चिकित्सकों के अनुभवों और दृष्टि की जानकारी दी।इनमें वर्ल्ड ऑर्गनाइजेशन फॉर एनिमल हेल्थ (ओआईई) के प्रतिनिधि भीशामिल थे। इनमें कई लोग 80 साल से भी ज्यादा के थे और पूरे आयोजनतथा सभी गतिविधियों में उत्सुकता से हिस्सा लिया।ओआईई पीवीएस टीम कई संगठनों / संस्थाओं और विश्वविद्यालयों से चर्चाकरती रही है और पशुचिकित्सा पेशेवरों के साथ काम करती है। इनमें पशुफार्म, चारा मिल, पशु वधशाला, सीमा पर चेक पोस्ट आदि शामिल हैं।मूल्यांकन करने वाली पीवीएस टीम को खुशी है कि भारतीय आबादी पशुओं के कल्याण को लेकर काफी चिन्तित है और भारत में पशु चिकित्साके क्षेत्र में अच्छा काम हो रहा है।वक्ताओं में एक सुश्री बबीता लोचब ने देश की राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था और सामाजिक-आर्थिक विकास में  पशुचिकित्सकों के योगदान के बारे मेंबताया। उन्होंने इस बात पर भी रोशनी डाली कि ग्रामीण भारत में जहां 15-20 प्रतिशत परिवार भूमिहीन हैं और करीब 80 प्रतिशत भूस्वामी छोटेऔर सीमांत किसान हैं, ऐसे में पशुपालन उनकी आय का मुख्य स्रोत है। इस तरह 25.6 प्रतिशत के कृषि जीडीपी में पशुओं से नेशनल जीडीपी  कायोगदान 4.11 प्रतिशत है। पशुपालन कृषि का अभिन्न भाग है और ग्रामीण भारत की दो तिहाई सेज्यादा आबादी को इससे सहायता मिलती है। आज के पशु चिकित्सकअकेले ऐसे चिकित्सक हैं जो पशुओं और लोगों दोनों के स्वास्थ्य की रक्षाके लिए शिक्षित हैं। ये लोग जानवरों की प्रत्येक प्रजाति केस्वास्थ्य औरकल्याण की आवश्यकताओं की पूर्ति करते हैं।

समाचार स्वास्थ्य

युवाओ में बढ़ रहा है स्ट्रोक का प्रकोप – डा. राहुल गुप्ता

युवाओ में बढ़ रहा है स्ट्रोक का प्रकोप – डा. राहुल गुप्ता नोएडा (अजित कुमार)। आराम तलब जीवन जंक फूड और तनाव के कारण युवाओं में स्ट्रोक के मामले बढ़ रहे है। इसका इलाज न कराने पर मस्तिष्क की कोशिकाओं, इम्पिडिंग मोटर और अवाज को नुक्शान हो सकता है। इस संबंध में नोएडा के फोर्टिज […]

समाचार स्वास्थ्य

होम्योपैथी की पहुंच प्रत्येक घर में होनी चाहिए – स्वास्थ्य मंत्री

होम्योपैथी की पहुंच प्रत्येक घर में होनी चाहिए – स्वास्थ्य मंत्री मोहल्ला क्लिनिक में होम्योपैथी की सुविधा जल्दी ही शुरू होगी होम्योपैथी की दुनिया में भारत की रणनीतिक स्थिति पर पैनल चर्चा फिल्म, “जस्ट वन ड्रॉप” का प्रदर्शन नई दिल्ली (सुनित नरूला) । होम्योपैथी के संस्थापक डॉ. सैमुएल हनीमैन के जन्म की 263वीं सालगिरह के […]