धर्मक्रम समाचार

हज यात्रा सुगम बनाने के लिए आॅनलाइन आवेदन को प्रोत्साहित कर रही है सरकार : नकवी

मुम्बई। केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने सोमवार को यहां कहा कि केंद्र सरकार अगली हज यात्रा के लिए हज यात्रियों द्वारा आॅनलाइन आवेदन को प्रोत्साहित कर रही है ताकि पारदर्शिता के साथ लोगों को हज यात्रा का मौका मिल सके। हज कमेटी आॅफ इंडिया और राज्य,  केंद्र शासित प्रदेशों की हज कमेटियों के अध्यक्षों एवं कार्यकारी अधिकारियों की बैठक का शुभारंभ करते हुए मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि 2016 हज के लिए लगभग 45,843 आॅनलाइन आवेदन प्राप्त हुए जो कुल आवेदनों का लगभग 11 प्रतिशत है। इसमें सबसे अधिक 10,960 आॅनलाइन आवेदन महाराष्ट्र से प्राप्त हुए थे। 9,257 आॅनलाइन आवेदन केरल से, 5,407 आॅनलाइन आवेदन उत्तरप्रदेश से, 2983 आवेदन तेलंगाना से, 2426 आवेदन जम्मू और कश्मीर से 2425 आॅनलाइन आवेदन गुजरात से प्राप्त हुए थे।
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हमारी कोशिश है इस बार अधिक से अधिक लोग हज यात्रा के लिए आॅनलाइन आवेदन दे सकें। इसके लिए केंद्र सरकार आॅनलाइन आवेदन को सरल-सुलभ बना रही है। हज 2016 में देश भर में 21 केंद्रों से लगभग 99,903 हाजियों ने हज कमेटी आफ इंडिया के जरिए हज किया और लगभग 36 हजार हाजियों ने प्राइवेट टूअर आपरेटरों के जरिये हज की अदायगी की।
नकवी ने कहा कि हज 2016 के दौरान हाजियों की सुविधाओं की देखरेख के लिए अल्पसंख्यक मंत्रालय के अधिकारियों की एक टीम सउदी अरब भेजी गई थी। केंद्र सरकार हज के सफर को बेहतर से बेहतर बनाने और हाजियों को ज्यादा से ज्यादा सहूलियत मुहैया कराने को कटिबद्ध है। हमने सभी मुख्यमंत्रियोंएवं सांसदों को हज संबंधित सुझाव देने के लिए पिछले सप्ताह खत लिखे हैं।
मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि अल्पसंख्यक मंत्रालय आने वाले हज के बेहतर इंतजाम की तैयारी में अभी से ही व्यापक पैमाने पर लग गया है। मक्का और मदीना में हज यात्रा के दौरान हाजियों को किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं हो इसके लिए हाजियों को प्रशिक्षण देने में हज कमेटी आफ इंडिया और राज्यों की हज कमेटियों को अभी से प्रशिक्षण शिविरों की योजना बनानी चाहिए। नकवी ने कहा कि अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय हाजियों को प्रशिक्षण देने के लिए 10-15 मिनट की एक फिल्म तैयार करेगा जिसमें हाजियों के लिए तमाम बातों की जानकारी होगी। यह फिल्म हाजियों के लिए आयोजित किये जाने वाले प्रशिक्षण शिविरों में भी दिखाई जाएगी। हमारा मंत्रालय इस बात के लिए पर्याप्त कदम उठा रहा है ताकि पिछले हज की तरह आने वाली हज यात्रा भी सुचारू और आसान रहे। अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री ने कहा कि पिछली हज यात्रा में सउदी अरब सरकार ने हज को सुचारू रूप से संपन्न कराने में सहयोग किया। हमने अगले हज के लिए देश भर से आये विभिन्न सुझावों के आधार पर सउदी अरब सरकार एवं हज से जुड़ी भारत की एजेंसियों से बातचीत शुरू कर दी है। नकवी ने कहा कि राज्य हज कमेटियां अपने राज्यों से हज पर जाने वाले लोगों को हज के सम्बन्ध में एवं यात्रा के दौरान क्या करना चाहिए, क्या नहीं करना चाहिए इसकी पर्याप्त जानकारी दें ताकि हज यात्रियों को किसी तरह की परेशानी नहीं हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *