धर्मक्रम समाचार

सिद्दीके अकबर ने सबसे पहले कबूल किया था इस्लाम

सिद्दीके अकबर ने सबसे पहले कबूल किया था इस्लाम
कानपुर (आजम बरकाती)। हजरत सिददीके अबकर रजी. ने सबसे पहले इस्लाम कबूल किया था और पहले मुसलमान हुए थे। आप पैगंबर-ए-इसलाम के ऐसे था थे। विसाल के बाद सिद्दीके अकबर की कब्र गुबदे खिजरा हैं। जहां पैगबंर-ए-इसलाम आराम फरमा रहे हैं। यह कहना है आल इन्डिया गराब नवाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष हजरत मौलाना मोहम्मद हाशिम अशरफी का। मौलाना अशरफी शनिवार को मदरसा अरबिया बांसमंडी कानपुर में एक जलसे को संबोधित कर रहे थे।
जलसे को खिताब करते हुए मौलाना अशरफी ने कहा कि पैहम्बरो इस्लाम इरशाद फरमाते हैं कि गार सौर में तुम मेरे साथ रहे और हौजे खौशर में भी तुम मेरे साथ रहोगे। इस्लाम को इतना फायदा किसी के माल से नहींपहुंचा जितना फायदा सिद्देके अकबर के माल से पहुंचा। दुनिया में सबसे ईमान वाले हजरत अकबर हैं। आपनी चार पीडिय़ा सहाबिये रसूल हैं। आप के पिता सहाबिये रसूल, आप सहाबिये रसूल और आप के बेटे अब्दुल रहमान सहाबिये रसूल आसमान के सितारे हैं।
इनके अतिरिक्त शाह आजम बरकाती, हाफिज अब्दुल रहीम बहराइची, हाफिज मिनहाजुद्दीन कादरी, कारी शम्शुददीन, मौलाना फिरोज आलम, हाफिज महमूद आदि उलेमाओं ने जलसे को संबोधित किया। मौलाना शकलैन ने नात शरीफ का नजराना पेश किया। जलसे का आगाज कुरआन की तिलावत से हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *