धर्मक्रम समाचार

सवाल आप के जवाब उलेमाओं के

सवाल आप के जवाब उलेमाओं  के

जकात फकीरों का हक है जकात के पैसों से लंगर करना जाइज नहीं

1 अगर आदमी ने सजदा औरतों की तरह किया तो नमाज हुई या नहीं?

जवाब: मर्द का औरत की तरह सजदा करना जाइज नहीं अगर औरत की तरह सजदा कियातो नमाज न हुई कि सजदा में मर्द के पैर की एक उंगली के पेट का जमीन पर लगना षर्त है और दोनों पैर की तीन तीन उंगलियों के पेट का लगना वाजिब है। औरतें सजदा में अपने दोनों पैर दाहिनी तरफ फेर लेती हैं ऐसी सूरत में उंगली के पेट का जमीन पर लगना नहीं पाया जाता जोकि नमाज में जरूरी है।

2 जकात का पैसा जोड़ कर लंगर करना कैसा है

जवाब: जाइज नहीं कि आम तौर पर लंगर में षामिल होने क लिए किसी तरह की कोई कैद नहीं होती इसमें अमीर गरीब यहां तक कि गैर मुस्लिम की षिरकत आम बात है ऐसी सूरत में जकात अदा न हुई कि जाकत फकीरों का हक है और अगर लंगर में सिर्फ फकीर ही हैं तब भी जकात अदा न हुई कि जकात की अदाएगी के लिए बुनियादी शर्त कि किसी फकीर या उसके किसी हकदार को माले जकात का मालिक कर दिया जाए लंगर में सिर्फ इबाहत (हलाल) पायी जाती है खाने का मालिक करना नहीं होता।

  1. 3. चांद रात को मेरे वालिद का इन्तेकाल हो गया तो क्या उनका फितरा भी देना होगा

जवाब: नहीं! सदका-ए-फितर ईद की सुबह सादिक तुलू होने के वक्त वाजिब होता है।

  1. 4. टखना छुपाकर या कपड़े को मोड़कर मर्द ने नमाज पढ़ी तो नमाज का क्या हुक्म है।

जवाब: पायजामा वगैरह से बगैर किसी इरादा टखना छुपा रहा तो नमाज मकरूह तन्जीमी हुई अलबत्ता अगर गुरूर व तकब्बुर या ना मुनासिब काम की आदत की वजह से टखना छिपा रहे तो नमाज मकरूह तहरीमी हुई यानी ऐसी नमाज का फिर से पढ़ना वाजिब है नमाज की हालत में कपडे का मोड़े रहना मुतलकन मकरूह तहरीमी है हदीस पाक में नमाज में कपड़ा समेटने खोसने से मना फरमाया गया है।

5 औरतों को अर्टिफीषियल जेवरात पहनकर नमाज पढ़ना कैसा है

जवाब: सोना चांदी प्लास्टिक और दीगर जवाहेरात के सिवा दूसरी तमाम धातुओं का जेवर पहनना जाइज नहीं अगर आर्टिफीशियल तांबा पीतल कांसा लोहा के जेवरात को पहनकर औरत ने नमाज पढ़ी तो नमाज मकरूह तहरीमी हुई इस नमाज का फिर से पढ़ना वाजिब है।

 

माहे स्याम हेल्प लाइन में मुफ्तियान कराम व ओलमा के राब्ता जाती नम्बरात व व्हाटसअप

1-मुफ्ती मोहम्मद अहमद अषरफी, मुफ्ती-ए-आजम     9336509597

2-मौलाना मोहम्मद हाषिम अषरफी      9415064822 व्हाटसअप

3-मौलाना महताब आलम मिस्बाही कादरी 9044890301 व्हाटसअप

4– मौलाना कासिम हबीबी 9839728740

5– मुफ्ती मो. नईमुद्दीन कादरी मिस्बाही  9956681752

6 मौलाना परवेज अख्तर अलीमी 9616780275      व्हाटसअप

7 मौलाना फतेह मोहम्मद 9918332871

8 मौलाना आरिफुलकादरी मिस्बाही     8953078321

9 मौलाना षहनवाज मिस्बाही    8181919311

10– मौलाना सोहैब मिस्बाही     9793174418      व्हाटसअप

  1. मुफ्ती वसीम अहमद मिस्बाही 7505649135 व्हाटसअप

12     मुफ्ती रफी अहमद मिस्बाही   8896624124      व्हाटसअप

13     मौलाना मो. जुनैद मिस्बाही   7309580779      व्हाटसअप

14     षाह आजम बरकाती   9369777701      व्हाटसअप

15     मास्टर इकबाल अहमद नूरी   8528840240      व्हाटसअप

16     कार्यालय आल इंडिया गरीब नवाज कौंसिल   70077240187, 7394846082  व्हाटसअप

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *