खेल समाचार

विश्व चैंपियनशिप के लिए चुना जाना मेरी बड़ी उपलब्धि : सिंधु

विश्व चैंपियनशिप के लिए चुना जाना मेरी बड़ी उपलब्धि : सिंधु
मुंबइ। दो कांस्य पदक जीतने वाली बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने कहा कि यदि वह रियो ओलंपिक खेलों में पोडियम में पहुंचने में सफल रहती हैं तो वह इनसे बड़ी उपलब्धि है। सिंधु ने मीडिया से कहा कि यह विश्व चैंपियनशिप से बड़ी उपलब्धि होगी। हर किसी का आखिरी लक्ष्य ओलंपिक में पदक जीतना होता है। क्योकि परिस्थितियां और माहौल पूरी तरह से भिन्न होता है। उन्होंने कहाकि मैं काफी उत्साहित हूं। यह मेरा पहला ओलंपिक है। विश्व में दसवें नंबर की सिंधू और उनसे दो पायदान उपर काबिज हैदराबादी साइना नेहवाल पांच से 21 अगस्त के बीच दक्षिण अमरीका में पहली बार होने वाले खेल के सहा संग्राम में पदक की प्रबल दावेदार हैं। खेलों के उद्घाटन से ठीक एक महीने पहले 21 साल की होने वाली सिंधु ने खुशी जताई कि कुल सात शटलर रियो ओलंपिक में भाग लेंगे। यह लंदन ओलंपिक खेलों से दो अधिक हैं। सिंधु ने कहा कि यह बहुत अच्छा है कि सात खिलाड़ी ओलंपिक के लिए चुने गए हैं जिसमें महिला युगल टीम (ज्वाला गुटा और अश्विनी पोनप्पा) को दूसरी बार और पुरुष युगल टीम (मनु अत्री और बी सुमित रेड्डी) को पहली बार चुना गया है। विश्व चैंपियनशिप 2013 और 2014 में कांस्य पदक जीतने वाली सिंधु ने कहा कि के श्रीकांत भी पहली बार ओलंपिक में हिस्सा लेंगे। वह भी काफी उत्साहित होगा। मुझे उम्मीद है कि हम सभी अच्छा प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि हम कड़ी मेहनत कर रहे हैं। हमें और बेहतर करने की जरूरत है। हम कोर्ट के अंदर और बाहर अभ्यास कर रहे हैं लेकिन मुख्य चीज खुद को फिट और स्वस्थ रखना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *