राफेल डील- पुनर्विचार याचिका पर 26 फरवरी से सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली (वीटीएन)। सुप्रीम कोर्ट ने राफेल विवाद को लेकर अपने फैसले की पुनर्विचार याचिका पर 26 फरवरी से सुनवाई शुरू करेगा. पहली पुनर्विचार याचिका को यशवंत सिन्हा, अरुण शौरी और प्रशांत भूषण, दूसरी याचिका को आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने दाखिल किया था।  दोनों याचिकाओं में तर्क दिया गया है कि सुप्रीम कोर्ट ने राफेल सौदे की सीबीआई और एसआईटी जांच के अनुरोध पर गौर नहीं किया.. साथ ही यह भी बताया कि केंद्र ने सीएजी रिपोर्ट की सारणी के संबंध में शीर्ष अदालत को गलत जानकारी दी थी।वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि राफेल मामले में बहुत से नए तथ्य सामने आए हैं। कोर्ट को इन पर ध्यान देना चाहिए। राफेल मामले की सुनवाई ओपन कोर्ट में की जाए। पिछले साल कोर्ट ने जब सुनवाई की थी तब सरकार की तरफ से पेश हुए अफसरों ने कोर्ट के सामने गलत तथ्य रखे थे.।इन लोगों ने कोर्ट को गुमराह किया. कोर्ट इस पर गौर करे. इस याचिका पर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा था कि फैसले पर विचार करने के लिए स्पेशल बेंच गठित की जाएगी. बता दें, पिछले साल दिसंबर में सुप्रीम कोर्ट ने अपनी निगरानी में राफेल डील की जांच की मांग से जुड़ी सभी याचिकाएं खारिज कर दी थीं. तब कोर्ट ने कहा था कि राफेल की खरीद प्रक्रिया में कोई खामी नहीं है. इसमें कारोबारी पक्षपातों जैसी कोई बात सामने नहीं आई. ऐसे मामले में न्यायिक समीक्षा का नियम तय नहीं है. राफेल सौदे की प्रक्रिया में कोई कमी नहीं है. 36 विमान खरीदने के फैसले पर सवाल उठाना गलत है.।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *