मनोरंजन समाचार

राजस्थान की कला और संस्कृति का अपना एक मुकाम

राजस्थान की कला और संस्कृति का अपना एक मुकाम

ग्रेटर नोएडा (अजमिल)। वैसे तो भारत के हर सूबे में कला और संस्कृति की अपनी एक पहचान है। लेकिन अगर बात करें राजस्थान की संस्कृति और कला की तो देश में ही नहीं पूरी दुनिया में अपनी छाप छोड़ती आ रही है। राजस्थान की कला संगीत के बारे में जयपुर से आए राजबाला सपेरा एंड पार्टी के मुखिया और मशहूर कलाकार राजबाला सपेरा ने बताया कि उन्होंने राजस्थान की कलाओं और संस्कृति को दनिया के कई देशों में  अपनी पार्टी माध्यम से आगे बढ़ाया है । सपेरा ने बताया कि वो अपनी पार्टी के माध्ययम अमेरिका, पेरिस मास्को, जापान, अफ्रीका श्रीलंका, कोरिया, जापान, मेक्सीको सिटी, मोरेसस डरबन आदि देशों में अपनी राजस्थानी कला का प्रदर्शन कर चुके हैं।राजबाला सपेरा ने बताया कि अनकी पार्टी के चंदा लाल, कालवेलिया, अनिता सपेरा, ममता सपेरा, सुखिया देवी, राजू नाथ, शम्भू नाथ, लोकेश, रमेश भट्ट, अर्जन भट्ट, मिट्ठू भट्ट आदि कलाकारों ने अपनी कला के माध्यम से काफी ना कमाया है और राजस्थान के साथ भारत के गौरव को आगे बढ़ाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *