मिस डेफ वर्ल्ड जीतने वाली पहली भारतीय बनीं विदिशा

नोएडा। इस टाइटल को जीतना सपना सच होने जैसा है, यह बस सपनों की शुरूआत है, ऐसे बहुत से लोग हैं जो अपनी सुनने की क्षमता खो चुके हैं और बहुत टैलेंटिड हैं जिन्हें अवसर मिलने चाहिए यह कहना था विदिशा बालियान का जिन्होंने हाल ही में मिस डेफ वर्ल्ड 2019 का खिताब जीत लिया है, ये ब्यूटी कॉन्टेस्ट दक्षिण अफ्रीका के बोमबेला में हुआ था और विदिशा पहली भारतीय हैं जिन्होंने ये ब्यूटी पेजेंट जीता है, 21 साल की विदिशा बधिर हैं। इस स्पर्धा के फाइनल राउंड में 16 देशों की 11 फाइनलिस्ट्स ने भाग लिया था, वे अपनी इस जीत के बाद काफी उत्साहित दिखीं और उन्होंने कहा कि मुझे बहुत ख़ुशी है की मैंने अपने देश का नाम ऊँचा किया इसीलिए मैं कहूँगी कि आप अपनी कमी को अपनी शक्ति बनाकर उसपर विजय प्राप्त करे। मुजफ्फरनगर की विदिशा का परिवार गाजियाबाद में रहता है। 21 साल की विदिशा को इस कॉन्टेस्ट के लिए गुड़गांव और नोएडा में ट्रेन किया गया है। विदिशा इंटरनेशनल टेनिस प्लेयर भी रह चुकी हैं। उन्होंने भारत का डेफओलम्पिक्स में प्रतिनिधित्व किया था। उनकी जीत के बाद एएएफटी के अध्यक्ष संदीप मारवाह ने ट्रेनर्स और ग्रूमिंग की पूरी टीम को धन्यवाद दिया जिन्होंने विदिशा को इस प्रतियोगिता के लिए तैयार किया था और मुझे बहुत भरोसा था की विदिशा यह ख़िताब जीतेगी क्योकि उसमें पॉसिटिविटी और जीतने का ज़ज़्बा था। सबसे ज्यादा ख़ुशी मुझे इस बात की है की वो एएएफटी की मॉडलिंग की छात्रा रही है। अवसर पर उनकी पूरी टीम जिसमें पदमश्री और अरुजना अवार्डी दीपा मलिक, व्यक्तित्व विकास ट्रेनर और मेंटर लेफ्टिनेंट रीता गंगवान, निर्दे शक मारवाह फिल्म्स राघव मारवाह, व्हीलिंग हैप्पीनेस की समन्वयक और सह-संस्थापक देविका मलिक, कोरियोग्राफर संदीप अहलुवालिया, मेकअप आर्टिस्ट सोनिया ढींगरा, आभूषण डिज़ाइनर भवनी मारवाह और सॉफ्ट स्किल ट्रेनर सुनैना कश्यप भी उपस्थित हुए।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *