धर्मक्रम समाचार

भागवान राम पहुंचे, अयोध्या, दीपों से जगमगाई नगरी

भागवान राम पहुंचे, अयोध्या, दीपों से जगमगाई नगरीsecto16a
 रावण वध के बाद अयोध्या में हुआ श्री राम का जोरदार स्वागत
नोएडा। श्रीराम मित्र मण्डल द्वारा आयोजित रामलीला मंचन के 11वें दिन दीप प्रज्जवलन के साथ लीला मंचन का आगाज हुआ। मेघनाद व कुंभकरण के वध के उपरांत रावण युद्व के लिए प्रस्थान करता हैं। रावण और राम सेना में भयंकर युद्व होने लगता है। अपनी सेना को विचलित देख रावण बीसों भुजाओं से धनुष उठाकर भयंकर युद्व करता है। इसके बाद लक्ष्मण व रावण का युद्व होता हैं। हनुमान जी रावण से युद्व करते है और हनुमान के एक घूसे के प्रहार से रावण मूर्छित हो जाता है। रावण पुन: शक्ति प्राप्त करने के लिए यज्ञ करता हैं, लेकिन वानर सेना उस यज्ञ का विध्वंस कर देती है। रावण व राम में भयंकर युद्व होने लगता है। तब विभीषण रामजी को बताते हैं कि इसके नाभिकुण्ड में अमृत है तब भगवान राम ने एक तीर छोड़ा सायक एक नाभि सर सोषा। अपर लगे भुज सिर कटि रोषा। भगवान उसके नाभि में बाण मार देते है। रावण के सिर व भुजाएं कट जाती है और रावण पृथ्वी पर गिर जाता है। इस तरह रावण अपने कुल सहित भगवान के परम धाम को जाता है। बरषहिं सुमन देव मुनि बृंदा। जय कृपाल जय जयति मुकुंदा। देवता आकाश से पुष्पों की वर्षा करते है। भगवान राम विभीषण का राजतिलक कर सिंहासन पर बैठाते है। हनुमान जी सीता जी को राम की विजय के बारे में बताते है। विभीषण कुछ समय रूकने के लिए कहते है लेकिन भगवान राम कहते हैं अगर समय बीतने पर अयोध्या जाऊंगा तो भरत को जीवित नहीं पाउंगा। पुष्पक विमान में बैठकर भगवान अयोध्या पहुंचते हैं जहां पर भरत एवं सभी अयोध्यावासी भगवान का स्वागत करते है नर नारियों ने प्रेम के दीपक जलाये है, चौदह वर्ष के बाद मेरे राम आये है। भगवान भ्राता लक्ष्मण व सीता के साथ अपना तपस्वी वेष त्यागकर सुंदर वसन-भूषण पहनते है और गुरू वशिष्ठ उनको तिलक कर सिंहासन पर बैठाते हैं सिंहासन पर त्रिभुअन सांई। देखि सुरन्ह दुन्दुभी बजाई। सारे देवता और अयोध्यावासी खुशियां मनाते हैं इसी के साथ रामलीला मंचन का समापन होता है।
इस अवसर पर संस्थापक अध्यक्ष बीपी अग्रवाल, प्रधान संरक्षक राकेश यादव, अध्यक्ष डीपी गोयल, मीडिया प्रभारी राघवेंद्र दुबे, महासचिव मुन्ना शर्मा, मुख्य संरक्षक सूबे यादव, महेश यादव, सपा प्रत्याशी अशोक चौहान, राजेंद्र कुमार गर्ग, अनिल गोयल, रविंद्र चौधरी, मनोज शर्मा, मुकेश गोयल, संजय गोयल, चक्रपाणी गोयल, अमर शर्मा, मुकेश सिंघल, मुकेश गुप्ता बबलू चौहान सहित तमाम श्रीराम मित्र मण्डल के पदाधिकारी व शहर के गणमान्य लोग मौजूद रहे। नोएडा स्टेडियम में राम मित्र मण्डल द्वारा आयोजित रामलीला में रावण, कुंभकरण, मेघनाद के पुतलों का दहन किया गया। सुरक्षा के पुख्ता बंदोबस्त के बीच दशहरा पर्व पूरे हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *