समाचार

” पोल खोल हल्ला बोल ” देशव्यापी अभियान के तहत सीटू नोएडा ने किया विरोध प़र्दशन

मोदी सरकार की 4 साल की नाकामियो औऱ जन विरोधी नीतियों के खिलाफ ” पोल खोल हल्ला बोल ” देशव्यापी अभियान के तहत सीटू नोएडा ने किया विरोध प़र्दशन

नोएडा, मोदी सरकार के चार साल की नाकामियों और नवउदारवाद साम्प्रदायिकता, जाति उत्पीड़न, श्रम कानूनों में मजदूर विरोधी बदलाव, बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी, भष्ट्राचार और मेहनतकश मजदूर-किसानों पर बढ़ते दमन शोषण उत्पीडन के खिलाफ जन एकता जन अधिकार आन्दोलन के आहवान पर मोदी सरकार के चार साल ’’पोल खोल, हल्ला बोल’’ देश व्यापी अभियान चलाया गया अभियान की शुरूआत 16 मई 2018 से हुई और जिसका समापन्न 23 मई 2018 को देश व्यापी बड़ी विरोधी कार्यवाही के तहत हुआ जिसके तहत प्रत्येक राज्य की राजधानी व जिलों में धरना प्रदर्शन व प्रतिरोध रैलीयों का आयोजन किया गया तथा नोएडा, गाजियाबाद, दिल्ली के कार्यकर्ता मण्डी हाउस से संसद मार्ग तक विरोध मार्च /रेली आयोजित की गई।
उक्त आहा्वान के तहत 23 म ई 2018 को सीटू जिला कमेटी गौतमबुध्दनगर के नेतृत्व मे विभिन्न जन संगठनों के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने बांसबली माकिँट सैक्टर 8-9-10 नोएडा के तिराहे पर इकट्ठा होकर विरोध प़र्दशन किया जिसे सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा, महासचिव रामसागर, सचिव राम स्वारथ, कोषाध्यक्ष मदन प़साद, वरिष्ठ नेता भीखूप़साद, मनोज, विजय गुप्ता, महिला नेता आशा, चन्दा बेगम, पिंकी आदि ने सम्बोधित किया ।
आम सभा में मोदी सरकार द्वारा जनता से किए गये वादो की पोल खोलते हुए सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा ने कहा कि मोदी सरकार ने वादा किया था की हर साल दो करोड़ बेरोजगारों को रोजगार देंगे, मोदी सरकार ने 200000 लोगों को भी रोजगार दिया नहीं? किसानों से वादा किया था की फसलो का डेढ़ गुना दाम दिया जाएगा, फसलों का भी 50% फसल का मुनाफा दिया जाएगा लेकिन आज हालत यह है कि कि किसान को फसल का डेढ़ गुना दाम मिलना तो दूर उसको आधा दाम भी उसका नहीं मिल रहा है। एक के बदले 10 सिर लाने का वादा किया था आज तक का एक भी सिर लेकर नही आए । महंगाई पर रोक लगाने की बात की थी आज महंगाई आसमान पर चढ़ रही है??? महिला सुरक्षा की बात की गई थी आज छोटी छोटी बालिकाओं से भी देश में बलात्कार हो रहे महिलाओं को अगवा करके सामूहिक रूप से इज्जत लूटी जा रही है। वृद्धों को जीने लायक पेंशन देने की बात की गई थी ,लेकिन आज अनेको बुजुर्गों की उनकी पेंशन बंद कर दी गई है। देश में नौजवानों को अच्छी और सस्ती शिक्षा देने की बात की गई थी लेकिन आज शिक्षा इतनी महंगी हो गई कि गरीब का बच्चा पढ़ भी नहीं सकता। सबका साथ ,सबका विकास का नारा देने वाले मोदी ने हर व्यापारी,धन्धा करने वाले, मजदूर ,किसान सबको बर्बाद का दिया है । सबको सस्ता स्वास्थ्य उपलब्ध करवाने की बात कही गई थी ,आज इलाज करवाना इतना महंगा है कि गरीब आदमी बिना इलाज के मर रहा है!! मोदी सरकार ने वादा किया था कि बहुत हुई पेट्रोल डीजल में महंगाई की मार, अबकी बार मोदी सरकार?? लेकिन आज पेट्रोल 84 रुपए लीटर तक देश में पहुंच चुका है और डीजल भी ₹75 लीटर के भाव पहुंच चुका है! सस्ती और अच्छी बिजली देने की बात कही गई लेकिन आज बिजली के भाव आसमान पर बढ़ा दिए गए हैं।नोट बंदी से 90 लाख मजदूरों का रोजगार चला गया ।100 दिन में काला धन लाने का वादा किया था ,क्या हुआ आप जानते है ,देश के हर नागरिक के बैंक खाते में 15 लाख देने के वादे का क्या ? हुआ मजदूरों के खिलाफ सारे श्रम कानूनों को समाप्त कर कर मालिको का गुलाम बनाने का कार्य किया जा रहा हैं ,स्थाई रोजगार को समाप्त कर लोकसभा में बजट में बड़ी चतुराई से टर्म बेस एम्प्लॉयमेंट याने समयावधि रोजगार हर छेत्र में कानून के जरिये लागू कर देश के मजदूरों और नोजवानो से बहुत बड़ा धोखा किया गया है

।देश मे नोट बंदी व GST लागू करने के बाद लाखो कारखाने बंद हो चुके है व लाखो लाख मजदूर बेरोजगार हो गए है । आज उत्तर प़देश मे मजदूरों को जीने लायक वेतन नही मिल रहा है । उन्होंने सरकार की मजदूर-किसान गरीब विरोधी नीतियों के खिलाफ एकजुट होकर बडा आन्दोलन करने का आहा्वान किया।
सभा समाप्ति के बाद सभी कार्यकर्ताओं ने मन्डी हाउस नई दिल्ली से संसद भवन तक हुये प़तिरोध मार्च एवं सभा मे हिस्सा लिया जिसका नेतृत्व जनसंगठनो के राष्ट्रीय नेताओं ने किया जिसमे हजारों लोगों ने हिस्सा लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *