पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस को मुख्यमंत्री योगी ने दिखाई हरी झण्डी

लखनऊ जंक्शन से नई दिल्ली के लिए चलने वाली IRCTC की पहली प्राइवेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया… यह देश की पहली प्राइवेट ट्रेन है जिसका संचालन पूर्ण रूप से IRCTC करेगी… शुक्रवार को तेजस से यात्रा करने वाले पैसेंजरों को कैब-वे से एंट्री नहीं मिली बल्कि उन्हें स्टेशन के मुख्य गेट से प्रवेश करना पड़ा… इस मौके पर सीएम योगी ने तेजस में सफर करने वाले पहले यात्रियों को बधाई दी… उन्होंने ने कहा कि ये देश की पहली कॉरपोरेट ट्रेन है…

मुझे उम्मीद है कि ऐसे और भी कदम उठाए जाएंगे ताकि दूसरे शहरों को इस माध्यम से जोड़ा जा सके।

देश की पहली कारपोरेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस में पैसेंजरों के लिए विमानों जैसी सुविधाएं हैं। इस स्पेशल ट्रेन की संख्या है 00501। ट्रेन कानपुर और गाजियाबाद से होते हुए नई दिल्ली तक जाएगी जबकि ट्रेन नियमित रूप से छह अक्टूबर से चलनी शुरू होगी.. IRCTC की ओर से ट्रेन की पहली यात्रा करने वाले पैसेंजरों को कॉम्प्लीमेंट्री लंच दिया जाएगा… साथ ही गिफ्ट भी दिए जाएंगे… उद्घाटन अवसर सीएम के साथ रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव, IRCTC सीएमडी एमपी मल, पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक राजीव अग्रवाल, IRCTC के CRM अश्विनी श्रीवास्तव सहित कई रेलवे अधिकारी उपस्थित रहे।

आई अब बात करते हैं ट्रेन के किराए की

जो लोग दिवाली के समय तेजस से लखनऊ जाने की योजना बना रहे हैं उनको सामान्य से ज्यादा किराया चुकाना होगा… इस ट्रेन में नई दिल्ली से लखनऊ का एसी चेयरकार में सामान्य किराया (कैटरिंग सहित) 1,280 रुपये है, लेकिन मांग बढ़ने की वजह से 25 अक्टूबर के लिए किराया बढ़कर 3,295 रुपये तक पहुंच गया है… इसी तरह से 2,450 रुपये वाला एक्जीक्यूटिव क्लास का टिकट 4,335 रुपये में मिल रहा है।

बताते चले डायनेमिक फेयर लागू होने के कारण मांग के साथ ही तेजस एक्सप्रेस का किराया भी बढ़ जाता है।

यही कारण है दिवाली के समय नई दिल्ली से लखनऊ का किराया करीब तीन गुना बढ़ गया है। दिवाली से पहले लखनऊ से नई दिल्ली का टिकट तो सामान्य किराये पर उपलब्ध है, लेकिन उसके बाद महंगा हो गया है।

लखनऊ से नई दिल्ली तक एससी चेयरकार का किराया 1,125 रुपये है जो कि 28 अक्टूबर के लिए बढ़कर 1,530 रुपये हो गया है। इसी तरह से एक्जीक्यूटिव क्लास का टिकट लेने के लिए 2,310 रुपये की जगह 2,445 रुपये देने होंगे।

IRCTC द्वारा संचालित इस ट्रेन के किराये में किसी भी तरह की कोई छूट नहीं मिलेगी। न तो इसमें वरिष्ठ नागरिकों को किराये में छूट मिलेगी न ही रेल कर्मचारियों के प्रिविलेज या ड्यूटी पास का लाभ मिलेगा। सफर करने के लिए निर्धारित किराया चुकाना होगा।

तेजस में आप को जो सुविधाएं मिलेंगीं…उसमें

आरामदायक और तेजी गति के साथ ट्रेन में लग्जरी होटल जैसी सुविधाएं और आराम मिलेगा।

ट्रेन की हर बोगी में मुफ्त वाईफाई के अलावा मूविंग टॉकीज की भी सुविधा मुहैया कराई जा रही है।

ट्रेन में रेलवे के प्री प्रोग्राम फीचर होंगे, जिसमें यात्री एंड्रायड फोन पर रेलवे के कार्यक्रम कनेक्ट करके देख पाएंगे।

तेजस की 12 बोगियों वाली ट्रेन में एक्जक्यूटिव और चेयरकार दो तरह के क्लास होंगे।

इसके तहत एक्जक्यूटिव क्लास की एक बोगी में 56 और चेयरकार में 76 यात्री सफर कर सकेंगे।

ट्रेन में OHE से बिजली लेकर उसे बोगियों के लिए कनवर्ट करने की तकनीक है।

इंडीकेटर बताएगा शौचालय में कितना पानी।

गार्ड के पास होगा गेट खोलने का बंद करने का बटन है।

संदिग्ध लोगों पर नजर रखने के लिए हर बोगी में छह सीसीटीवी कैमरे लगे हैं।

हर बोगी में एंटी ब्रेकिंग सिस्टम लगे हैं, जो पहिये को जाम करे देंगे।

ट्रेन में चेन की जगह इमरजेंसी के दौरान ट्रेन रोकने के लिए हैंडल लगाए गए हैं।

विजुअल और एनाउंस से यात्रियों को तुरंत जानकारी मिल जाएगी।

हर बोगी में सूप और कॉफी बनाने के लिए मिनी किचन है।

बोगी में दो सेंट्रल टेबल और पब्लिक इंफोर्मेंशन डिस्पले भी है।

हर सीट के ऊपर अटेंडेंट को बुलाने के लिए पीला बटन लगा है।

पढ़ाई के लिए रीडिंग बटन की भी सुविधा है।

बटन दबते ही खिड़की के पर्दे खुलेंगे और बंद हो जाएंगे।

बोगी के दोनों छोर पर सेंसर युक्त स्लाइडिंग दरवाजे लगे हैं, जो करीब जाते ही खुल जाते हैं।

सिगरेट पीने के दौरान ट्रेन स्वतः ही रुक जाएगी।

ट्रेन लेट होने पर मुआवजा देने का प्रावधान भी है। जी हां, नई दिल्ली से लखनऊ के बीच चलने वाली पहली प्राइवेट ट्रेन ने यात्रा में एक घंटे की देरी होने पर आप को 100 रुपये और दो घंटे से ज्यादा की देरी पर 250 रुपये मिलेंगे..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *