शिक्षा/टेक्नालाजी समाचार

देश को आगे ले जाने के लिये प्रत्येक भारतीय को अपने कर्तव्यों का दृढ़ता से पालन करना होगा : ले. जनरल वी.के.शर्मा

देश को आगे ले जाने के लिये प्रत्येक भारतीय को अपने कर्तव्यों का दृढ़ता से पालन करना होगा : ले. जनरल वी.के.शर्मा
ग्वालियर (सुनील गोयल)। आज हम आज़ादी की 71 वीं वर्षगांठ ज़रूर मना रहे हैं लेकिन देश को अब तक कई मोर्चों पर आज़ादी की अब भी दरकार है। देश को आगे ले जाने के लिये प्रत्येक भारतीय को अपने कर्तव्यों का दृढ़ता से पालन करना होगा यह उद्गार एमिटी विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर ले. जनरल वी के शर्मा एवीएसएम ने व्यक्त किए। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वच्छता को मुहिम बनाने का संकल्प लेते हैं लेकिन असल में सफाई तब होगी जब हर नागरिक सफाई के लिये दृढ़ संकल्प से काम करेगा । उन्होंने कहा कि हमारे देश में पर्याप्त कानून व्यवस्था है लेकिन उसका सभी को वचनबद्धता के साथ पालन करना चाहिए। ले. जनरल शर्मा ने भारत की आज़ादी से लेकर अब तक के सेना के योगदान को सलाम करते हुए कहा कि पड़ोसी देशों के हमले से हमारी रक्षा करते हुए सैंकड़ों सैनिकों ने अपनी जान की कुर्बानी देकर आज़ादी के बाद भी हमारे देश की अस्मिता और अखण्डता को सुरक्षित रखा है। लेकिन इस आज़ादी को कायम रखने के लिए युवाओं को अनुशासन के साथ आगे बढऩा होगा और देश में अपना उत्पादक योगदान देकर उसे आर्थिक महाशक्ति बनाना होगा। उन्होंने कहा कि जब हम आर्थिक रूप से अधिक सक्षम होंगे तभी सैन्य शक्ति को अभेद्य बना पाएंगे। उन्होंने विद्यार्थियों और नागरिकों से अपील करते हुए कहा कि अब हमें जीवन में अनुशासन के साथ देश के लिए अपनी जि़म्मेदारी को वैसे ही तय कर लेना चाहिए जैसे सरहद पर खड़ा एक सैनिक अपना सर्वस्व न्यौछावर करने को तत्पर रहता है।
एमिटी विश्वविद्यालय के विशाल प्रांगण में आयोजित हुए स्वतंत्रता दिवस के इस विशेष कार्यक्रम की शुरूआत राष्ट्रगान से की गई और मौके पर सेना और वायुसेना के अधिकारियों ने भी विद्याथियों, शिक्षकों और कर्मचारियों के साथ तिरंगे को जोश के साथ सलामी दी और शहीदों की शहादत को याद कर श्रद्धांजलि देते हुए सभी से नैतिक मूल्यों एवं अनुशासन के पालन की अपील की गई । खास बात यह रही कि इस मौके पर एमिटी के वाइस चांसलर ले.जनरल वी के शर्मा ने जहां देश में अब भी आज़ादी की बात कही तो विद्यार्थियों के एक समूह ने भी हमारे भारत देश के मीडिया की सकारात्मक जवाबदेही तय करने की अपील करते हुए एक नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया। यही नहीं मौके पर छात्र—छात्राओं ने देशभक्ति और आज़ादी को सहेजने का संदेश देने वाली कविताएं पेश की। इस मौके पर प्रो-वाइस चांसलर प्रोफेसर(डॉ) एम.पी.कौशिक, रजिस्ट्रार राजेश जैन, सहित सभी विभागाध्यक्ष, प्राध्यापकगण विद्यार्थी और कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *