समाचार

दिल्ली-नोएडा पुलिस, गृह मंत्रालय पर आरोप- पिटाई के बाद मदद मांगी, लेकिन किसी ने नहीं सुनी

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के मुदासिर रसूल नाम के शख्स का आरोप है कि उसे नोएडा में कुछ लोगों ने मारा और जब उसने मदद मांगनी चाही तो कोई भी आगे नहीं आया। इंडियन एक्सप्रेस को मिली जानकारी के मुताबिक, 28 साल का मुदासिर जम्मू कश्मीर का रहने वाला है। उसका आरोप है कि नोएडा में एक प्राइवेट कंपनी के कुछ लोगों ने सोमवार (5 सितंबर) को दोपहर में उसके साथ मारपीट की लेकिन उसे कोई बचाने नहीं आया। मुदासिर का कहना है कि उसने नोएडा पुलिस, दिल्ली पुलिस और गृह मंत्रालय को शिकायत भी की थी। लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। मुदासिर नोएडा में नेशनल स्किल डेवेलपमेंट कॉर्पोर्शन के प्रोजेक्ट ‘उड़ानÓ में काम करता है। यह स्कीम केंद्र सरकार द्वारा चलाई गई है। इसमें जम्मू कश्मीर के उन लोगों को ट्रेनिंग दी जाती है जो राज्य के बाहर रह रहे होते हैं। रसूल ने कहा, ‘मैंने उस हेल्पलाइन पर कॉल किया जो गृह मंत्रालय द्वारा जम्मू कश्मीर से बाहर रह रहे युवाओं को दी गई है। लेकिन उन्होंने बोला कि वे सिर्फ एडमिशन से जुड़ी हुई परेशानियों को सुनते हैं। मैंने नोएडा और दिल्ली पुलिस को भी कॉल किया। आखिरकार नोएडा के सेक्टर 70 में मेरी शिकायत दर्ज हुई।
रसूल ने बताया है कि उसकी शिकायत के बाद तीन में से एक शख्स को गिरफ्तार तो कर लिया गया लेकिन पुलिस ने उसे भी लगभग चार घंटे थाने में बैठाए रखा। मुदासिर ने आरोप लगाया कि एक पुलिसवाले ने उसे भी लड़ाई का जिम्मेदार बताते हुए कहा था, ‘मैं जानता हूं कि कश्मीरी कैसे होते हैं।Ó हालांकि, बाद में मुदासिर ने तीनों लोगों से पुलिस के सामने समझौता कर लिया। रसूल ने बताया कि वे लोग उसी प्राइवेट कंपनी के थे जिसके तहत उड़ान प्रोजेक्ट चलाया जा रहा था। रसूल का आरोप है कि पहले तो उन लोगों ने काफी घंटे उसे और उसके दोस्त को इंतजार करवाया। इसके बाद उनपर चिल्लाते हुए कहा, ‘तुम कश्मीरी हर जगह ऐसा ही बर्ताव करते हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *