जॉब में एक डिजिटल क्रांति का आगाज़ किया गया है : दीक्षांत कुमार

नई दिल्ली। “रोज़गार अब और तेज़, पारदर्शी और आसान हो गया है, एम्पज़िला के साथ डिजिटल रोज़गार का एक नया चेहरा। भारत का पहला और लाइव मोबाइल चैट “2018 में एम्पज़िला ऐप के सफल लॉन्च के बाद, एम्पज़िला ने 26 अप्रैल, 2019 को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में एक डिजिटल जॉब फेयर आयोजित किया । हमें अब यह कहते हुए गर्व हो रहा है कि रोजगार उद्योग में डिजिटल क्रांति लाने के अनुभव ने रफ्तार पकड़ ली है और यह साबित करने के लिए, आज भीड़ के बीच एक डिजिटल मोबाइल ऐप की व्यापक स्वीकृति हुआ ।यह हमें बहुत खुशी देता है कि एम्पज़िला इंडिया प्रा लिमिटेड, कुछ ही समय में देश में शीर्ष सबसे अधिक रोजगार देने वाला मोबाइल ऐप बन गया है। हमारे आज के जॉब फेयर में 120 से अधिक कंपनियां हैं, जिन्होंने टेक महिंद्रा, जेनपैक्ट, फ्लिपकार्ट, आईसीआईसीआई बैंक, बजाज कैपिटल, तिकोना और हमारे अतिथि सम्मान डॉ पवन दुग्गल (दुनिया के शीर्ष चार साइबर वकीलों में से एक) ने ई-कॉमर्स और डिजिटल पोर्टल्स के उपयोग के बारे में अपने मूल्यवान विचारो को साझा किया है जैसे कि वर्तमान चुनौतियां क्या हैं और हमें कैसे रोका जाए। किसी भी तरह के घोटालों से खुद और साथ ही हमारे देश में डिजिटलाइजेशन की संभावनाएं क्या हैं ।एम्पज़िला डिजिटल जॉब फेयर में एक लाइव चर्चा पैनल आयोजित किया गया था, जो अपनी तरह का था जिसमें विभिन्न उद्योगों (श्री अनिल पोखरियाल (सीईओ, एमईपीएससी), श्री अजय भूषण (सीईओ, आईएएस एसएससी, लेफ्टिनेंट जनरल)  जैसे वक्ता शामिल थे। डॉ एस पी कोचर (सीईओ, टेलीकॉम एसएससी, सुश्री शुभ नारंग (एचआर हेड) ने हमारे देश में एक भर्ती और नौकरी के इच्छुक उम्मीदवार के रोजगार, भर्ती और चुनौतियों के बारे में अपनी मूल्यवान विचार साझा किया और इस स्थिति के साथ कैसे आना है यह बतया । अखिल अत्रे (चेयरमैन) एम्पजिला इंडिया प्रा लि नें कहा  “एम्पज़िला ने आज जॉब फेयर की परंपरा को बदल दिया है, जिसका मतलब है कि अब डिजिटल जॉब फेयर का आयोजन करके एक छत के नीचे बल्क हायरिंग का एक और अधिक सुविधाजनक तरीका है। अब यह क्रांति जो जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम से शुरू हुई है, अन्य शाहरो में जायेगी ” ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *