चित्रकार एवं पत्रकार रविन्द्र दास ने पेंटिंग्स का लाइव डेमो ने दर्शकों को कियाा प्रभावित

नोएडा। सूर्या संस्थान, नोएडा और  अंश -ए नेटवर्क ऑफ सेंसिटिव हुमन्स” इंदिरापुरम, गाज़ियाबाद के सहयोग से महिला दिवस के उपलक्ष्य में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम दो सत्रों में किया गया। पहले सत्र में वरिष्ठ चित्रकार एवं पत्रकार रविन्द्र दास ने पेंटिंग्स का लाइव डेमो दिखाकर दर्शकों को प्रभावित किया। इस मौके पर बच्चों ने महिलाओं की समाज में दशा विषय पर पेंटिंग्स बनाई, जिसमें उन्होंने घरेलू हिंसा, बेटी पढ़ाओ,बेटी बचाओ, कम उम्र में विवाह जैसे संवेदनशील विषयों को छुआ। चित्रकार रविन्द्र दास ने  उत्कृष्ट पेंटिंग्स को चुना और बच्चों को पुरस्कृत किया। इस मौके पर उच्चन्यायालय दिल्ली के अधिवक्ता भास्कर अग्रवाल ने कानूनी सलाहों के ज़रिए सूर्या संस्थान की छात्राओं को प्रेरित किया।

दूसरे सत्र के कार्यक्रम में वरिष्ठ कवि लेखक सुरेश चंद निशिकर की दो पुस्तकों जिसमें ‘मां’ और मदरटेरेसा का विमोचन किया गया। जहां मां किताब का समीक्षा वक्तव्य वरिष्ठ साहित्यकार शांति कुमार स्याल जी ने दिया और मदरटेरेसा की पुस्तक समीक्षा का वक्तव्य वरिष्ठ लेखक दिविक रमेश जी ने दिया। महिला दिवस के इस अवसर पर नोएडा जिला अस्पताल की डॉ तनुजा गुप्ता ने जहां महिला अधिकारों पे बात की और जिला अस्पताल की साइकेट्रिक नीरज सूरी ने बताया कि हर बीमारी के लिए दवाई खाने की ज़रूरत नही होती। इसके लिए आवश्यक है कि महिलाओं की मनःस्थिति को समझने की आवश्यकता है क्योंकि अगर इन्हें समय से नही समझा गया तो यह मनोरोग बीमारी का बड़ा रूप ले सकती है।  इस कार्यक्रम की अध्यक्षता की वरिष्ठ कवियत्री कुमुद श्रीवास्तव जी ने किया।

इस मौके पर अंश की संस्थापिका  सुश्री अंजलि गुप्ता ने बोलते हुए कहा कि अंश का प्रयास है कि चित्रकला और कला के माध्यम से समाज में तमाम संवेदनशील विषयों पर निरंतर कार्य हो और इसके लिए अंश प्रतिबद्ध है।

इस मौके पर सूर्या संस्थान के महासचिव देवेंद्र मित्तल ने कहा कि संस्थान हमेशा से महिलाओं के प्रोत्साहन और उत्थान के लिए कार्य करता रहा है और आज का महिला दिवस पर आयोजित यह कार्यक्रम इसी कड़ी का एक हिस्सा है।


http://visharadtimes.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *