धर्मक्रम समाचार

ख्वाजा गरीब नवाज़ के आखिरी क़ुल में देश व देश वासियों के लिए अमन व शांति की प्रार्थना

ख्वाजा गरीब नवाज़ के आखिरी क़ुल में देश व देश वासियों के लिए अमन व शांति की प्रार्थना
कानपूर (आजम बरकाती)। अल्लाह पाक को अपने बन्दों का सवाल (मांगना ) बहुत पसंद है ! ऐ लोगो आओ आज हम अपने ख्वाजा पिया के सदक़े अपने रब से मांगें ! ऐ अल्लाह तेरी रहमत टूटे हुवे दिलों का सहारा है १ ऐ अल्लाह तू हम पर माता- पिता से भी अधिक पियार करता है ऐ अल्लाह तू जो चाहता है वो करता है ! तेरे चाहने में किसी का कोई दखल नहीं है चाहे तो एक पल में बड़े को छोटा और छोटे को बड़ा करदे ! ऐ अल्लाह तू मजलूमों ,कमजोरों की फरियाद को सुनता है हम मजलूमों पर मेहरबानी फरमादे ऐ अल्लाह तू सारे जगत से ज़ुल्म व ज़ियादती और दहशत गर्दी को मिटादे विषेस रूप से हमारे भारत को अमन व शांति वाला देश बना दे! ऐ अल्लाह तू ही इंसाफ करने वाला है हुकमरानों के दिलों में इंसाफ डाल दे ! ऐ अल्लाह हमारे हिर्दय को अपने डर से दरने वाला बना दे ! ऐ अल्लाह तेरे बन्दे और जानवर गर्मी से परेशन हाल हैं उन्हें राहत दे ऐ अल्लाह तू रहमान और रहीम है ऐ अल्लाह तू सभी जीव जंतुओं पर रहम फरमादे! ऐ अल्लाह तू ही हफीज़ रक्षक हमारी रक्षा कर ये प्रार्थना आल इंडिया गरीब नवाज़ कौंसिल एवं ग़रीब नवाज़ फौन्देशन के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित ख्वाजा गरीब नवाज़ के आखिरी क़ुल छप्पन पार्क जूही लाल कालोनी में मौलाना महताब आलम ने किया दुआ के समय मौलाना सहित उपस्थित सभी प्रार्थककर्ताओं की आँखों में आंसू आगये इस पूर्व मौलाना फ़तेह मो. क़ादरी ने जलसे को संबोधित करते हुऐ कहा की सरकर गरीब नवाज़ सदा अपने खुदा से डरते थे और अपने मान्ने वालों को भी खुदा से डरने का सन्देश देते रहे समजिक बुराइयों से जनता को बचने का उद्देश देते हुऐ कहा की क़र्ज़ ,दुष्कर्म,शराब , चोरी, कमजोरों पर ज़ुल्म बंद करने की नसीहत दी और पडोसीसे मेल मिलाप भाई चारा रखने को कहा ! इस्लाम धर्म में छोटे बड़े हर एक (प्रत्येक) के साथ अच्छा व्यवहार रखना हमारे नबी मोहम्मद स०अ० व० की विसेषता है ! इससे पूर्व जलसे की शुरुआत कारी मो.अहमद अशरफ़ी ने कुरान की तेलावत से किया|

जलसे का संचालन हाफिज़ मो.अरशद अशरफी ने किया नात शरीफ का नजराना शब्बीर अहमद बरकाती हाफिज आसिफ,शमीम अशरफ़ी ने पेश किया इसके पश्चात लोगों में ख्वाजा गरीब नवाज़ का लंगर वितरित किया गया इसके साथ ही छात्र छात्रों को इस्कूली बस्तों का वितरण भी किया गया इस अवसर पर मुख्य रूप से मौलाना महताब अल्लम मिस्बाही शहरी अध्यक्ष कौंसिल , मोहम्मद शाह आज़म बरकाती मिडिया प्रभारी ,फखरुद्दीन (बाबू अब्दुललतीफ़, समीउद्दीन, शकील.अहमद, मो.रिज़वान, निज़ामुद्दीन, नसीमुद्दीन, बाबु. शाकर, शराफतुल्लाह,मो.इमरान,मो.नफ़ीस,मो.सलीम आदि उपस्थित थे अंत में जलसा आयोजक, ने परशाशन थाना सभी उपस्थित लोगों को धन्यवाद दिया!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *