विश्व समाचार शिक्षा/टेक्नालाजी समाचार

एमिटी विश्वविद्यालय एंव नीदरलैण्ड के लेंटिज एजुकेशन गुरुप में हुआ समझौता

एमिटी विश्वविद्यालय एंव नीदरलैण्ड के लेंटिज एजुकेशन गुरुप में हुआ समझौता

नीदरलैण्ड के प्रधानमंत्री मार्क रूट की उपस्थिती में हुआ करार

नोएडा। एमिटी विश्वविद्यालय द्वारा तकनीकी एंव विज्ञान के ज्ञान मे संयुक्त रूप से कार्य करने हेतु नीदरलैण्ड के लेंटिज एजुकेशन गु्रप के मध्य समझौता पत्र हस्ताक्षर किया गया। इस समझौता पत्र को भारत में नीदरलैण्ड के राजदूत आल्फोनसस स्टोइलिंगा के घर पर आयोजित रात्रि भोज के दौरान हस्ताक्षारित किया गया। इस अवसर पर नीदरलैंण्ड के प्रधानमंत्री मार्क रूट, एमिटी विश्वविद्यालय के चांसलर डा अतुल चौहान, नीदरलैंण्ड के कृषि, प्रकृति एंव भोज्य गुणवत्ता मंत्री श्रीमती कारोला स्काउटेन, विदेष व्यापार एंव विकास निगम मंत्री श्रीमती पाओलिन क्रिके एंव एमिटी सांइस टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन फांउडेशन के अध्यक्ष डा डब्लू सेल्वामूर्ती उपस्थित थे।vएमिटी विश्वविद्यालय एंव नीदरलैण्ड के लेंटिज एजुकेशन गु्रप के मध्य समझौता के अंर्तगत नीदरलैण्ड में एमिटी इंस्टीटयूट ऑफ फूड एंड टेक्नोलॉजी के छात्रों को इंर्टनशिप, फूड टेक्नोलॉजी के छात्रों हेतु स्टडी अब्राड कार्यक्रम को विकसित करना, संयुक्त सम्मेलन का आयोजन, ग्रीन हाउस कल्टीवेशन, कंट्रोल एनवांयरमेंट एग्रीकल्चर, प्रोटेक्टेड एग्रीकल्चर, कल्टीवेशन मेथड पर लघु पाठयक्र्रम का आयोजन, शिक्षकों का प्रषिक्षण कार्यकम, संयुक्त स्नातक डिप्लोमा कोर्स एंव अन्य आपसी सहमती एंव छात्रों के रूचि अनुसार कार्यक्रम पर संयुक्त कार्य किया जायेगा।इस समझौता पत्र के तहत तकनीकी वैज्ञानिक ज्ञान के आपसी साझाकरण की सुविधा एंव वैज्ञानिकों, शोधार्थियों एंव प्रशिक्षक छात्रों के एक दूसरे के संस्थान में आवागमन हेतु मंच प्रदान किया जायेगा। आपसी सहमती से दोनों संस्थानों द्वारा संयुक्त रूप से वैज्ञानिक कार्यशाला, सम्मेलन एंव कार्य मीटींग का आयोजन किया जायेगा।एमिटी विश्वविद्यालय के चांसलर डा अतुल चौहान ने कहा कि ये समझौता पत्र वक्त की मांग है और यह भारत एंव नीदरलैंण्ड दोनों को तकनीकी रूप से उन्नत होने और छात्रों को नवोन्मेष तकनीकी सीखने में सहायता करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *