जीवनशैली समाचार

एमिटी में फैकल्टीज ने सीखे रिसर्च पेपर राइटिंग के गुर

एमिटी में फैकल्टीज ने सीखे रिसर्च पेपर राइटिंग के गुर

एमिटी विश्वविद्यालय में रिसर्च पेपर राइटिंग विषय पर राष्ट्रीय कार्यशाला आयोजित


ग्वालियर। एमिटी विश्वविद्यालय मध्यप्रदेश ग्वालियर में एमिटी बिसनेस स्कूल द्वारा रिसर्च फैकल्टी मेम्बर्स की रिसर्च पेपर राइटिंग स्किल्स को निखारने के लिए रिसर्च पेपर राइटिंग विषय पर एक दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस अवसर एमिटी विश्वविद्यालय मध्यप्रदेश ग्वालियर के वाइस चांसलर लेफ्टिनेंट जनरल वीके शर्मा एवीएसएम ने कार्यशाला को उपयोगी बताते हुए कहा कि रिसर्च फैकल्टी मेम्बर्स को नित अपने स्किल्स को और बेहतर बनाने का प्रयास करना चाहिए ताकि उनका व उनके विद्यार्थियों का ज्ञान स्तर ऊंचा उठ सके। वहीँ एमिटी बिसनेस स्कूल के डायरेक्टर प्रोफेसर डॉ अनिल वशिष्ठ द्वारा फैकल्टी मेम्बर्स को बताया कि रिसर्च पेपर्स लेखन रोजाना के लेखन से हटकर एक अलग तरह की स्किल है। इसमें पारंगत होने के लिए फैकल्टी मेम्बर्स को अपने शैक्षिक ज्ञान को सही शब्दों तथा उपयुक्त शैली में पिरोना आना चाहिए। इसमें विशेषज्ञता हासिल करने के लिए उन्हें न केवल अपने लिखे को बारीकी से पढऩा और समझना चाहिए बल्कि जाने-माने विशेषज्ञों द्वारा लिखे गए पेपर्स को भी पढऩा चाहिए। उन्होंने कार्यशाला में शोध पत्र लेखन तकनीक के वैज्ञानिक पहलुओं को समझनेशोधकार्यों का प्रतिष्ठित जर्नल्स में प्रकाशन तथा इसमें आने वाली कठिनाई या अस्वीकृति के मुख्य कारणों से प्रतिभागियो को अवगत कराने के साथ देशभर से आए फैकल्टी मेम्बर्स की जिज्ञासाओं का समाधान भी किया। कार्यशाला में रिसर्च फैकल्टी मेम्बर्स को स्कूपस,इंडेक्स,एल्सवेयर सहित अन्य प्रतिष्ठित जर्नल्स की जानकारी प्रदान की गई इस दौरान कार्यशाला समन्वयक डॉ.मेघना गोयल ने रिसर्च पेपर्स लेखन को अधिक प्रभावशाली बनाने में भाषा व कम्युनिकेशन स्किल्स पर फैकल्टी मेम्बर्स से विस्तृत जानकारी साझा कीइस दौरान पंजीकृत शोद्यार्थियों के अलावा एमिटी विश्वविद्यालय के वाणिज्य संकायसामाजिक विज्ञान संकाय तथा मानविकी संकाय के प्रतिभागियों को अध्यापन,व्याख्यानमॉडल पेपर्स,प्रैक्टिकल ट्रेनिंग ,ग्रुप डिस्कशनस द्वारा प्रभावशाली पीएचडी थीसिस लिखने तथा विषय सामग्री के वैधानिक मुद्दों से निपटने के तरीकों और अनुसंधान में विभिन्न डेटा अनालिसिस पर काम करने के आसान तरीके तैयार करने का बुनियादी प्रशिक्षण दिया गया । कार्यशाला के समापन सत्र में एमिटी विश्वविद्यालय मध्यप्रदेश ग्वालियर के वाइस चांसलर लेफ्टिनेंट जनरल वीके शर्मा एवीएसएम ने सभी प्रतिभागियों का धन्यवाद व्यक्त कर भागीदारी के प्रमाण पत्र से सम्मानित किया । इस अवसर पर एमिटी विश्वविद्यालय मध्यप्रदेश ग्वालियर के प्रो-वाइस चांसलर प्रोफेसर डॉ. एमपी कौशिक ,रजिस्ट्रार राजेश जैन सभी फैकल्टी मेम्बर्स एवं शोधार्थी उपस्थित रहे । 


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *