एमिटी में प्री प्लेसमेंट ट्रेनिंग वर्कशॉप में छात्र हुए रोजगार की चुनौतियों के लिए तैयार

एमिटी में प्री प्लेसमेंट ट्रेनिंग वर्कशॉप में छात्र हुए रोजगार की चुनौतियों के लिए तैयार
ग्वालियर (सुनील गोयल)।  एमिटी विश्वविद्यालय में विद्यार्थियों को अच्छी कंपनियों में चयन तथा कॉपोर्रेट जगत में सफलता के विषय ज्ञान के लिए एक प्री प्लेसमेंट ट्रेनिंग वर्कशॉप का आयोजन एमिटी सिस्टम आॅफ कम्युनिकेशन एनहांसमेंट एंड ट्रांसफॉर्मेशन के तत्वावधान में किया गया। जिसमे कॉपोर्रेट जगत के जाने माने बिषय विशेषज्ञों ने प्रतिभागियों को बताया कि आज के चुनौतीपूर्ण युग में अच्छी कंपनियों में चयन तथा कॉपोर्रेट जगत में सफलता के किए छात्रों को विषय ज्ञान के अतिरिक्त सॉफ्ट स्किल्स पर विशेष मेहनत करनी चाहिए।
इस अवसर पर विभाग की निदेशक तथा कार्यशाला की विशेषज्ञ डॉ. इति रॉयचौधरी ने कहा कि बाजार में नौकरी की मांग सिर्फ उनके लिए है जो उद्योगों की उत्पदकता बढ़ाने में योगदान देने के काबिल हैं। उन्होंने कहा कि इसके लिए जरूरी है कि विद्यार्थी कोर्स में दाखिला लेने के पहले दिन से ही अपना लक्ष्य तय करते हुए पढ़ाई करें, तकनीकी पहलुओं को सीखें और उद्योगों की मांग के अनुरूप खुद को प्रशिक्षित करें, तभी मनवांछित नौकरी प्राप्त की जो सकती है। इस दौरान अतिथि विशेषज्ञों ने विद्यार्थियों को भाषा की नियमित कक्षाओं के साथ-साथ सामान्य शिष्टाचार के लिए प्रशिक्षित किया और रिज्यूमे बनाना, कवरिंग लेटर लिखना, ग्रुप डिस्कशन तथा पर्सनल इंटरव्यू के मौलिक सिद्धांतों से परिचित कराया तथा छात्रों को औपचारिक वातावरण में मॉक जीडी, पर्सनल इंटरव्यू के लिए निरंतर अभ्यास कराया। उन्होंने यह बिंदु भी उठाया की नियमित तथा योजनाबद्ध रूप से छात्रों को प्लेसमेंट के लिए तैयार करना होगा। इसके अंतर्गत उन्हें सम्प्रेषण कौशल, तार्किक विचारशक्ति, सकारात्मक दृष्टिकोण तथा टीम स्पिरिट आदि क्षेत्रों में प्रशिक्षित किया जाना आवश्यक है। उल्लेखनीय है कि एमिटी विश्वविद्यालय छात्रों के व्यक्तित्व और सकारात्मक दृष्टिकोण को आकार देने के हेतु सतत प्रयासरत रहता है। व्?याख्?यान के अंतिम सत्र के दौरान प्रशिक्षकों ने छात्रों से सॉफ्ट स्किल्स ट्रेनिंग हेतु नई रणनीति के विषय में चर्चा कर छात्रों को प्रथम वर्ष से लेकर अंतिम वर्ष तक तीन अलग अलग स्तरों पर प्रशिक्षित किया गया । वर्कशॉप के समापन पर डॉ सुधा मिश्रा ने धन्?यवाद ज्ञापन प्रेषित किया। कार्यशाला का समन्वयन डॉ विशाखा मंडल ने किया। इस दौरान एमिटी विश्विद्यालय के प्रो-वाइस चांसलर प्रोफेसर डॉ.एमपी कौशिक तथा रजिस्ट्रार राजेश जैन, डीन रिसर्च प्रोफेसर डॉ. एसपी बाजपेयी, डीन एकेडमिक प्रोफेसर डॉ.आरएस तोमर, डायरेक्टर एसेट मेजर जनरल डॉ.एससी जैन(वीएसएम), प्रोफेसर डॉ.अनिल वशिष्ठ, डायरेक्टर एचआर अमनप्रीत रंधावा सहित सभी विभागाध्यक्ष , प्राध्यापकगण एवं विद्यार्थी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *