शिक्षा/टेक्नालाजी समाचार

एमिटी अंर्तराष्ट्रीय मॉडल यूनाईटेड नेशन में सैकड़ो देशी

एमिटी अंर्तराष्ट्रीय मॉडल यूनाईटेड नेशन में सैकड़ो देशी
नोएडा (अनिल दुबे)। विदेशी छात्रों ने लिया हिस्सा एमिटी विश्वविद्यालय में त्रिदिवसीय एआइएमयूएन 2017 का शुभारंभ एमिटी अंर्तराष्ट्रीय मॉडल यूनाईटेड नेशन, संयुक्त राष्ट्र को छात्रों के मध्य प्रर्दशित करने की एक अकादमीक प्रेरणा है जिसका उदेदश्य प्रतिभागीयों को वर्तमान की वैष्विक तथा स्थानीय घटनाओं, नागरिकशास्त्र तथा बहुस्तरीय कुटनीति की शिक्षा देना है। इस अंर्तराष्ट्रीय मॉडल यूनाईटेड नेषन के अंर्तगत छात्र किसी एक देश के बारे में शोध करते है, कूटनितिज्ञों की भूमिका निभाते हंै, जनरल एसेंबली कमेटी के कार्यो को दोहराते है, अंर्तराष्ट्रीय मुद्दो को खोजते है, वैष्विक चुनौतियों का हल ढूंढते है। इन्ही सब मसलों पर आधारित द्वारा एमिटी एजुकेशन रिर्सोस सेंटर एंव एमिटी इंटरनेशनल स्कूल समूह द्वारा एमिटी अंतर्राष्ट्रीय मॉडल यूनाईटेड नेशन 2017 का आयोजन, एमिटी विश्वविद्यालय, उत्तर प्रदेश में किया गया, जिसमे देश विदेश से सैकड़ो की संख्या मे छात्रों ने हिस्सा लिया है। इस एमिटी अंर्तराष्ट्रीय मॉडल यूनाईटेड नेशन का शुभांरभ आज स्पेन दूतावास के डिप्टी हेड आॅफ मिशन इडूआरडो सैनचेज, स्पेनिष कल्चर सेंटर के इंस्टीटयूटो सेरवांटेस के निदेशक कारलोस वारोना, द रितुसुमेकेन ट्रस्ट के निदेशक शिगेकी अशिदा, एयर मार्शल रमेश राय, बिग्रेडियर एन के खंबाटा, एमिटी इंटरनेशनल स्कूल्स की चेयरपरसन डा (श्रीमती) अमिता चैहान, एमिटी एजुकेशन रिर्सोस सेंटर की निदेशिका डा ज्योती अरोरा, एमिटी इंटरनेशनल स्कूल की प्रधानाचार्या श्रीमती रेनू सिंह, एमिटी विश्वविद्यालय के आर एम अग्रवाल (रिटार्यड राजदूत ) ने पांरपरिक दीप जलाकर किया।


इस अवसर पर अमिताषा की छात्राओं द्वारा गीत प्रस्तुत किया गया। एमिटी अंर्तराष्ट्रीय मॉडल यूनाईटेड नेशन 2017 में लगभग 384 दिल्ली एनसीआर के छात्रों सहित 42 विदेषी छात्रो ने हिस्सा लिया जिनकी विभिन्न आठ कमेटियां बनाई गई है जिसमें प्रथम जनरल एसेंबली जिसका मुद्दा नस्लवाद का उन्मूलन एंव नस्लीय भेदभाव था, द्वितीय कमेटी मानवाधिकार कांउसिल जिसका मुद्दा सशस्त्र संर्घष के दौरान बच्चों के अधिकारों की रक्षा, तृतीय कमेटी संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में नार्थ कोरिया में सुरक्षा स्थिती चतुर्थ कमेटी इंटरनेशनल अटॉमिक एनर्जी एजेंसी में परिवर्तीत ऊर्जा स्त्रोत में परमाणु ऊर्जा पर पंचम कमेटी यूनाईटेड नेषन एनवांयरमेंट प्रोग्राम में पेरिस समझौते का क्षेत्रीय कार्यान्वयन छठवीं कमेटी संयुक्त राष्ट्र आर्थिक एंव समाजिक परिषद में गरीबी के सभी रूपों का उन्मूलन सातवीं कमेटी नेषनल सिक्योरिटी कांउसिल आॅफ इंडिया जिसमे विविध मुददे एंव प्रथम बार आठवी कमेंटी इंटर स्टेट कांउसिल जिसमें राज्यों के मध्य विभिन्न मुद्दे जैसे जल विवाद या भूमि विवाद पर चर्चा की गई। इस कार्यक्रम के तहत अंर्तराष्ट्रीय छात्रों हेतु एमिटी विश्वविद्यालय में विशेष कार्यशाला का आयोजन किया गया जिसके अंर्तगत छात्रों को एमिटी इंस्टीटयूट आॅफ फांरेसिक सांइस की प्रयोगशाला में फांरेसिक सांइस, आईटी विभाग में साइबर क्राइम एंव एमिटी इंस्टीटयूट आॅफ बायोटेक्नोलॉजी की प्रयोगशालाओं में बायोइन्फोर्मेटिक्स की जानकारी प्रदान की गई। स्पेन दूतावास के डिप्टी हेड आॅफ मिशन इडूआरडो सैनचेज ने कार्यक्रम के शुभारंभ समारोह में संबोधित करते हुए कहा कि एमिटी अंर्तराष्ट्रीय मॉडल यूनाईटेड नेशन 2017 पिछले कुछ महीनों में एमिटी एंव स्पेन के मध्य संबध बढ़ाने की दिषा मे द्वितीय कदम है। पहला कदम जब तीन माह पूर्व एमिटी के छात्रों ने मोबिलिटी स्कीम के तहम स्पेन का दौरा किया था। भारत एंव स्पेन के मध्य दो संस्थानों के आपसी संबध का लाभ छात्रों को अवष्य मिलेगा। उन्होनें जोर देते हुए कहा कि भारतीयों, यूरोपीयों एंव स्पेनिशों के लिए एक दूसरे से सीखने के लिए काफी कुछ है। व्यक्ति के स्वंय हेतु एंव वैष्विक नागरिकता हेतु नये वैष्विक समाज में काफी चुनौतियां है और षिक्षा एंव नये वैष्विक पहचान के क्षेत्र में काफी कुछ हासिल करना है। उन्होनें कहा कि वे एमिटी एंव स्पेन के संस्थानों के मध्य रिष्तों को मजबूत बनाने हेतु सदैव सहयोग देगें। डा (श्रीमती) अमिता चैहान, चेयरपरसन, एमिटी इंटरनेषनल स्कूल ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि देष को एक अच्छे नेता की बहुत आवष्यकता है। एमिटी द्वारा सदैव इस बात का प्रयास किया जाता है कि छात्रों का सवार्गीण विकास हो। एमिटी अंर्तराष्ट्रीय मॉडल यूनाईटेड नेशन 2017 के तहत छात्रों को विभिन्न देशों की समस्याओं को समझने, जिस देष को प्रतिनिधित्व कर रहे है उसकी समस्यों का हल खोजने, अन्य विदेषी एंव देष के छात्रों से मिलने का मौका दिया जाता है। डा (श्रीमती) चैहान ने कहा कि कहा कि आप मे से कई छात्र भविष्य मे संयुक्त राष्ट्र मे देश के प्रतिभागी होगें जिस पर हम सभी को गर्व होगा। उन्होंने यह भी कहा कि एमिटी अंर्तराष्ट्रीय मॉडल यूनाईटेड नेशन में जहां एक ओर छात्रों के अंदर षोध करने की प्रवृत्ती बढ़ती है वही दूसरी ओर उनकी जानकारी मे भी इजाफा होता है। कार्यक्रम के दौरान आपकों अन्य देषों की संस्कृति समझने एंव नये मित्र बनाने के अवसर भी प्राप्त होगें। इस अवसर पर पुर्तगाल की छात्रा एलिस्का मालाक्का ने अपने अनुभव को साझा करते हुए कहा कि वे एमिटी अंर्तराष्ट्रीय मॉडल यूनाइटेड नेशन 2017 में पहली बार हिस्सा ले रही है वे अपने देष मे शिक्षा को मजबूत करके पुर्तगाल में गरीबी उन्मूलन पर कार्य करेगीं। इस कार्यक्रम से उनके ज्ञान में बढ़ोत्तरी होगी और नये अंर्तराष्ट्रीय मित्र भी बनेंगे जिससे वे अन्य देशों की संस्कृति एंव समस्याओं को बेहतर समझेंगी। इटली कलिसो स्टाटाले ए तारानटिनो स्कूल की छात्रा ग्राजाइना ने कहा कि मॉडल यूनाईटेड नेषन विष्व के सभी छात्रों के लिए लाभप्रद होता है और छात्रों को अन्य संस्कृतियों, परंपराओं एंव 21वीं सदी में अन्य देषों की समस्याओं से परिचित होने का मौका प्रदान करता है। इस दौरान प्राप्त किये गये सभी कौषल जैसे प्रदर्षन कौशल, संचार कौशल, षोध, निती विष्लेशण, ध्यान से सुनना आदि गुण जीवन भर काम आयेंगे। इंटर स्टेट कांउसिल में छात्रों ने देश के विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री की भूमिका निभाई और अपनी राज्यों की समस्याओं एंव दूसरे राज्यों के विवाद सहित आंतरिक सुरक्षा के मुद्दे को प्रमुखता से उठाया। इस कमेटी मे सिक्किम के मुख्यमंत्री ने गोरखालैंड के मुद्दे को उठाते हुए उससे होने वाली समस्याओं को बताते हुए अांतरिक सुरक्षा से जोड़ा वही कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार पर जम्मू कश्मीर मे कोई प्रभावी कार्य ना करने का मुददा उठाया जिसका राजस्थान के मुख्यमंत्री ने विरोध करते हुए निती निर्धारण की जानकारी दी। मणिपुर के मुख्यमंत्री ने रोहिंग्या लोगों का अवैध आगमन पर रोक लगाने की मांग की जिस पर पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री ने कहा कि जब देष में हर देश के रिफ्युजी आ सकते है तो रोहिंग्याओं को भी आने देना चाहिए। संयुक्त राष्ट्र आर्थिक एंव समाजिक परिषद में विभिन्न देषों मे गरीबी उन्मुलन कम करने एंव स्थायीत्व आर्थिक समाधान ढूंढने पर चर्चा की गई। एमिटी अंर्तराष्ट्रीय मॉडल यूनाईटेड नेशन 2017 का समापन शनिवार को नवंबर 18 को किया जायेगा जिसमें बेहतरीन प्रर्दशन करने वाले छात्रों को पुरस्कृत भी किया जायेगा।


VIDEO :

SHAM E GAZAL

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *