एपिक टीवी पर मनेगा ‘वल्र्ड हैरिटेज डे’

एपिक टीवी पर मनेगा ‘वल्र्ड हैरिटेज डे’

मुम्बई,(वीटीएन)। प्रत्येक वर्ष 18 अप्रैल को मनाया जाने वाला वल्र्ड हैरिटेज डे यूनेस्को की एक पहल है, जिसे हमारी विरासत के मूल्य और संरक्षित सामूहिक धरोहर के लिए निर्धारित किया गया है। अपने मिशन को प्रमुखता देते हुए एपिक-भारत का एकमात्र हिंदी भाषी इंफोटैन्मेंट चैनल, ने इस वर्ष 18 अप्रैल 2018 को दोपहर 12 से शाम 7 बजे तक एक विशेष कार्यक्रम की योजना की है, जिसके तहत यह दर्शकों को भारत की कुछ सबसे प्रतिष्ठित सांस्कृतिक विरासतों की एक यात्रा पर ले जा रहा है। इस विषय पर अपने विचार साझा करते हुए अकुल त्रिपाठी, (एंकर-एकांत एवं कंटेट हैड, एपिक टीवी) ने कहा, ‘‘हमारी एतिहासिक धरोहरें अमूल्य है, इनका संरक्षण एवं प्रदर्शन करना जरूरी है। यह धरोहरें न केवल एक प्रदर्शन है बल्कि यह शिक्षा भी प्रदान करती है और हमारी भावनाओं को इनसे जोड़ती है तथा इस ओर ध्यान दिलाती है कि कैसे हमारे पूर्वजों ने हमारे लिया कितनी कीमती विरासत का निर्माण किया था। इस विश्व धरोहर दिवस पर हमारा प्रयास अपनी विरासत के प्रति अपनी जिम्मेदारी समझना है।’’ प्रभावशाली और विस्मयकारी निर्माण के माध्यम से भारतीय वास्तुकला ने इंजीनियरिंग और डिजाइन की सीमाओं को पार किया है। संरचना-एपिक, मूल रूप से इन वास्तुकला के चमत्कारों का प्रदर्शन करता है, इस ओर हमारा ध्यान खींचता है कि कैसे इन चमत्कारों के निर्माताओं ने आधुनिक मशीनरी की सहायता के बगैर इनको पूर्ण किया। इसमें आप शानदार गेटवे देखिए, बेजोड़ निर्माण देखिए और मेजबान वैभवी उपाध्याय के साथ खगोलीय तथा चमत्कार की व्याख्या कीजिये।एकांत-एक नवीनतम यात्रा श्रृंखला, जो अकूल त्रिपाठी द्वारा लिखी गई है, यह दर्शकों को भारत के परित्यक्त एतिहासिक स्थनों की यात्रा पर ले जाती है। इसमें आप देखेंगे, हम्पी-नालंदा के अंतर्राष्ट्रीय शिक्षण केंद्र के खण्डहर, कुम्भलगढ़ के विशाल किले और आकर्षक जगहों की अनकही कहानियों के एपिसोड। एपिक टीवी पर 18 अप्रैल को दोपहर 12 से शाम 7 बजे के बीच ट्राइगो में ट्यून करें वल्र्ड हैरिटेज डे शो केस।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *