खेल समाचार

इरफान पठान के जम्न दिन पर खास


नई दिल्ली (खेल डेक्स)। भारतीय टीम के महान गेंदबाज इरफान पठान का जन्म दिन है। क्रिकेट की दुनिया में इतिहास रचने वाले इरफान पठान ने देश के लिए कई कारनामें दिखाए हैं। इरफान पठान का जन्म 27 अक्टूबर 1984 को गुजरात के बड़ौदा में हुआ। पठान की वो हैट्रिक का रिकार्ड जिसे आजतक कोई नहीं तोड़ सका है।
आप को याद दिला दें कि 2006 में सौरव गांगुली के नेतृत्व में भारतीय टीम ने पाकिस्तान का दौरा किया था और इरफान पठान को लेकर चर्चाओं का बाजार काफी गर्म था। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज को भारतीय टीम के गेंदबाजी विभाग का प्रमुख हथियार बताया जा रहा था।
तब पाकिस्तान के कोच जावेद मियांदाद ने शब्दों के बाण छोड़ते हुए कहा था कि इरफान में कोई खास बात नहीं है। ऐसे गेंदबाज तो पाकिस्तान की गली-गली में घूमते हैं। इरफान पठान ने कराची टेस्ट में मियांदाद की इस टिपण्णी का करारा जवाब दिया था। उन्होंने सीरीज के तीसरे व अंतिम टेस्ट मैच के पहले ही ओवर में हैट्रिक लेकर इतिहास रच दिया। यह पहला मौका था जब टेस्ट के पहले ओवर में किसी गेंदबाज ने हैट्रिक ली हो।
29 जनवरी से 1 फरवरी 2006 तक खेले गए इस टेस्ट में इरफान ने पहले ओवर की चौथी, पांचवी और छठी गेंद पर विकेट लेकर हैट्रिक पूरी की थी। उन्होंने सलमान बट, यूनिस खान और मोहम्मद यूसुफ को अपना शिकार बनाया था। तीनों बल्लेबाज बिना खाता खोले पवेलियन लौटे थे।
बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने गेंद को शानदार स्विंग कराई और पहली तीन गेंदों पर सलमान बट को बीट किया। चौथी गेंद इरफान ने आॅफस्टंप लाइन से आउटस्विंग कराई, जिस पर सलमान बट के बल्ले का बाहरी किनारा लगा और पहली स्लिप में मौजूद राहुल द्रविड़ ने शानदार कैच लपका।
इरफान ने अगली ही गेंद आॅफस्टंप लाइन से इनस्विंग कराई। यह गेंद गुडलेंथ स्पॉट पर आई। यूनिस खान फ्रंटफुट पर गए और क्रॉस शॉट खेलने का प्रयास किया, बल्लेबाज काफी लेट हुए चुके थे क्योंकि गेंद तब तक पैड पर लग चुकी थी और अंपायर साइमन टॉफेल को उंगली उठाने में देरी नहीं लगी।
इसके बाद पाकिस्तान के सबसे भरोसेमंद बल्लेबाज मोहम्मद यूसुफ बल्लेबाजी करने के लिए आए। उन पर इरफान को हैट्रिक से रोकने का अतिरिक्त दबाव भी था। इरफान पठान ने यूसुफ को भी आगे की लाइन पर इनस्विंग गेंद डाली, जो उनके डंडे बिखेर कर चली गई। यूसुफ के बैट और पैड के बीच काफी गैप रहा और इरफान ने टेस्ट क्रिकेट में इतिहास रच दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *