अलगाववादी नेताओं के घर NIA की छापेमारी

आतंकी संगठनों के लेटर हेड्स और अन्‍य दस्‍तावेज बरामद

जम्मू-कश्मीर। कश्मीर घाटी में राष्ट्रीय जांच एजेंसी यानी NIA ने एक बड़ी कार्रवाई की है। इसके तहत  9 अलगाववादियों के ठिकानों पर छापे मार कर एनआईए की टीम ने अलग-अलग जगहों से प्रॉपर्टी के पेपर, पैसों के लेनदेन से संबंधित कागजात, बैंक अकाउंट डिटेल, विभिन्न आतंकवादी संगठनों के लेटर हेड और डॉक्यूमेंट समेत कई सामान जब्त किए हैं। अलगाववादी नेता मिरवाईज फारुक के घर से हाई-टेक इंटरनेट कम्यूनिकेशन सेट अप भी एनआईए की टीम ने बरामद किया है। 

जांच एजेंसी के मुताबिक श्रीनगर में सात अलग-अलग ठिकानों पर यह छापेमारी की है। यह छापेमारी जम्मू-कश्मीर में आतंकियों को फंडिंग देने को मामले में की गई है। अलगाववादी नेता यासिन मलिक, शब्बीर शाह, मीरवाइज उमर फारुक, मोहम्मद अशरफ खान, मसरत आलम, जफर अकबर भट्ट और नसीम गिलानी के ठिकानों पर यह छापेमारी की गई है।जिन ठिकानों पर एनआईए की टीम ने छापेमारी की है उनमें पाकिस्तान का समर्थन करने वाले अलगाववादी सैयद अली शाह गिलानी के बेटे नईम गिलानी का आवास भी शामिल है। इस छापेमारी में एनआईए की टीम के साथ स्थानीय पुलिस और सीआरपीएफ के जवान भी शामिल थे। जांच एजेंसी की टीम ने अलगाववादी नेता मीरवाईज के दो रिश्तेदारों से पूछताछ भी की है। मीरवाईज के जिन रिश्तेदारों से पूछताछ की गई है उनके नाम मौलवी मंजूर और मौलवी शफात है। मीरवाईज के यह दोनों रिश्तेदार सेवानिवृत वरिष्ठ सरकारी अधिकारी हैं। एनआईए आतंकियों को फंडिंग के पीछे छिपे असली खिलाड़ियों को पकड़ना चाहती है। इसके अलावा सुरक्षाबलों पर पथराव करने स्कूलों को आग के हवाले करने वालों और सरकारी निर्माणों को नुकसान पहुंचाने वालों की पहचान करने के लिए ही जांच एजेंसी ने ताबड़तोड़ छापेमारी की है।

============================================

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *